Subscribe Us

What Is Demat Account In Hindi? How To Open Zerodha Demat Account?

 Demat Account In Hindi :- अगर आप भी शेयर बाजार में निवेश करने की सोच रहे हैं तो आपके लिए आज का यह लेख Demat Account In Hindi बहुत ही उपयोगी होने वाला है. क्योकि आज के इस लेख में मैं आपको Demat अकाउंट क्या है? Demat Account Kaise Open Kare , कहाँ और कैसे Open करें? के बारे में बताने जा रहा हूँ.

यदि आप नहीं जानते हैं की शेयर बाजार क्या है तो इसे पढ़ें - 


कुछ साल पहले जब भी हम किसी कंपनी के शेयर खरीदते थे तो वो कंपनी हमें उन शेयर से जुड़े कुछ कागज़ भेजती थी. वो कागज़ इस बात का सबूत होते थे की हमने उस कंपनी में निवेश किया है और उस कंपनी में शेयर खरीद रखें है पर Demat Account आने के बाद सब चेंज हो चूका है.अब सब कुछ Internet के द्वारा ही हो जाता है.

तो आईये दोस्तों बिना किसी देरी के जानते हैं की Demat Account Kya Hai (Demat Account क्या है?) और इसे कहाँ और कैसे Open करें?



    Demat Account क्या है? - What Is Demat Account?


    Demat Account भी बैंक अकाउंट के तरह ही होता है जिस प्रकार आप बैंक में पैसे जमा करके रखते हैं उसी प्रकार Demat Account में अपने द्वारा ख़रीदा गया Share को रखा जाता है.

    What Is Demat Account In Hindi? How To Open Zerodha Demat Account?



    जब तक Balance हमारे बैंक खाते में होता है हम उसे छु नहीं सकते हैं अर्थात् वो भौतिक रूप नहीं होता है. ठीक उसी प्रकार जो शेयर हमारे Demat Account में होता है हम उसे छु नहीं सकते हैं बस उसे किसी दुसरे व्यक्ति के Demat अकाउंट में digitally ट्रान्सफर कर सकते है. ऐसे में हमको शेयरों को भौतिक रूप में रखने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती.

    यदि आसान शब्दों में कहे तो शयरों को Digitally या इलेक्ट्रॉनिक रूप में रखने को ही Demat कहा जाता है.

    पहले के समय में Share Bazar में किसी शेयर को खरीदना और बेचना बहुत ही मुश्किल काम होता था क्योंकि इसमें काफी समय लग जाता था.

    लेकिन Demat Account एक ऐसी सुविधा का नाम है जिसके आने के बाद अब आपको किसी Computer तक जाने भी जरुरत नहीं है आप बस घर बैठे ही किसी भी शेयर को मिनटों में खरीद या बेच सकते हैं.

    Demat Account में आप Share के साथ - साथ Mutual Fund भी रखा जाता है. 


    Demat का पूरा नाम - Demat Full Form 


    Demat का पूरा नाम “Dematerialize” होता है. सिक्योरिटीज यानी की शेयर आदि को भौतिक रूप में बदलने की प्रक्रिया को dematerialization कहते है.


    Demat Account के फायदे - Advantage Of Demat Account


    वैसे तो Demat Account के कई सारे फायदे हैं लेकिन कुछ प्रमुख फायदे निम्न हैं - 
    1. Demat Account के माध्यम से शेयर को खरीदने या बेचने पर उसमें चोरी या धोखाधड़ी की संभावना ना के बराबर होती है. क्योंकि सारे काम Online इलेक्ट्रॉनिक तरीके से होता है.
    2. पहले शेयर को खरीदने या बेचने में बहुत समय लगता था लेकिन Demat Account से आप उस काम को मिनटों में कर सकते हैं.
    3. किसी Share को ट्रान्सफर करना बहुत ही आसान हो गया है, पहले इस प्रक्रिया में महिनों लग जाता था.
    4. इससे आप सिर्फ एक शेयर को भी खरीद या बेच सकते हैं लेकिन पहले Odd Number में शेयर को नहीं बेच सकते थे.
    5. अब आप Demat Account खोलते है तो अकाउंट को व्यक्तिगत रूप से मनोनित कर सकते हैं. ऐसा पहले नहीं था पहले शेयर के लिए प्रमाणपत्र हुआ करते थे.
    6. कंपनी के द्वारा दिया गया बोनस शेयर अपने आप ही Demat Account में जुड़ जाते हैं.

    Demat Account के नुकसान - DisAdvantages Of Demat Account


    1. आपके ब्रोकर आपके खाते का गलत उपयोग कर सकते है,इस लिए उन पर निगाह रखनी पड़ती है।
    2. जब तक डीमैट खाते में कोई भी शेयर है, तब तक उसे बंद नहीं किया जा सकता और तब तक निवेशक को इस से जुड़े चार्ज देने पड़ेंगे.

    Demat Account क्यों जरुरी है?

    SEBI (स्टॉक एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया) के दिशा निर्देश के अनुसार डीमैट को छोड़कर किसी अन्य रूप में शेयरों को बेचा या खरीदा नहीं जा सकता है. इसलिए, अगर आपको शेयर बाजार से स्टॉक खरीदना या बेचना हो तो आपके पास डीमैट खाता होना अनिवार्य है.


    Demat Account कहाँ Open करें?


    भारत में SEBI द्वारा बनाए गाइडलाइन के अनुसार Demat Account सर्विस दो प्रमुख संस्थाओ द्वारा दी जाती है, ये दोनों संस्था है,

    • NSDL (The National Securities Depository Limited)
    • CDSL (Central Depository Services (India) Limited)

    आपको पता ही होगा कि, PAN CARD भी इन्ही दोनों संस्थाओ में प्रमुख रूप से NSDL द्वारा बनाया गया होता है, और हो सकता है आपने पैन कार्ड के सम्बन्ध में NSDL का नाम पहले जरुर सुना होगा,

    खैर बता दे कि जिस तरह PAN CARD बनाने के लिए आप किसी एजेंट की मदद से ऑनलाइन एप्लीकेशन देते है, और कुछ दिनों में आपका पैन कार्ड बन जाता है,

    वैसे ही आपको DEMAT अकाउंट खोलने के लिए आपको डायरेक्टली NSDL और CDSL के पास जाने की जरुरत नहीं , और आप DEMAT अकाउंट खोलने का एप्लीकेशन किसी भी प्रमुख बैंक और स्टॉक ब्रोकर के पास कर सकते है,

    यदि आप स्टॉक ब्रोकर के बारे में पूरी जानकरी लेना चाहते हैं तो आप यह लेख पढ़ सकते हैं - Stock Broker क्या होता है और यह काम कैसे करती है?

    अगर बात की जाये स्टॉक ब्रोकर की तो सभी प्रमुख स्टॉक ब्रोकर आपको TRADING ACCOUNT के साथ साथ DEMAT ACCOUNT खोलने की भी सुविधा देते है,

    DEMAT अकाउंट खोलने के लिए आपको अलग से कुछ करने की जरुरत नहीं होती, बस आपको एक ऐसे स्टॉक ब्रोकर या बैंक के पास जाकर एप्लीकेशन देना है, जो DEMAT अकाउंट खोलने की सुविधा देता है,

    कुछ प्रमुख बैंक और स्टॉक ब्रोकर की लिस्ट जो DEMAT और ट्रेडिंग अकाउंट खोलने की सुविधा साथ साथ देते है – 

    1. ShareKhan
    2. ICICI Direct
    3. Motilal Oswal
    4. Kotak Securities
    5. Zerodha
    6. Upstox
    7. 5Paisa
    8. HDFC Securities
    9. State Bank Of India 
    10. Axis Securities

    आप इनमें से किसी भी Stock Broker के पास जाकर अपना Demat Account Open कर सकते हैं.

    Demat Account Open करने के लिए जरुरी दस्तावेज या Documents 


    एक Demat और ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज़ के विषय में नीचे आपको जानकारी प्राप्त होगी. Demat Account के लिए apply या आवेदन करने से पहले मैं इन सभी दस्तावेजों की फोटोकॉपी या e-copy तैयार रखें :

    • पैन कार्ड / Pan Card
    • आधार कार्ड / Aadhaar Card
    • 2 पासपोर्ट आकार की तस्वीरें (Passport Size Photos)
    • रद्द खाता चेक (Cancelled Cheque) / सेविंग बैंक खाता पासबुक (Savings PassBook)

    अगर आप ऊपर बताये गए सभी Documents को तैयार रखते हैं तो आप बहुत ही आसानी से अपना Demat Account Open कर सकते हैं.

    Demat Account खोलने के लिए कितना फीस (चार्ज) लगता है?


    Demat Account खोलने के लिए सभी Brokers या Banks अपने हिसाब से अलग - अलग फीस रखते हैं यदि नॉर्मली बात करें तो आप मात्र 300 से 700 के अन्दर ही अपना Demat अकाउंट ओपन कर सकते हैं.

    वहीँ कुछ Broker आपको बिलकुल Free में Demat Account खोलने की सुविधा भी देते हैं. लेकिन आप फ्री के लोभ में न पड़े सबसे पहले आप अपने लिए एक अच्छा Broker चुने फिर Demat Account ओपन करें.

     Demat Account खोलने के बाद उसका Annual Maintatnce Charge भी होता है, जो आपको demat अकाउंट की सेवा के बदले हर साल एक फ़ीस के तौर पे देना होता है.

    जब भी आप Demat account खोलने के लिए किसी बैंक के पास या स्टॉक ब्रोकर के पास जाते है, तो वहा आप फ़ीस के बारे में जरुर पता करे ताकि आपको बेवजह एक्स्ट्रा चार्ज न देना पड़े.


    ज़ेरोधा में अपना Demat और Trading अकाउंट कैसे खोलें 


    How Open Demat And Trading Account In Zerodha


    चलिए दोस्तों अब हम जान लेते हैं की भारत के सबसे बड़े Discount Broker Zerodha में अपना Demat Account कैसे open करें?

    1. सबसे पहले Zerodha की वेबसाइट पर Signup करने के लिये इस link पर जाए – Open Demat

    2. फिर अपना Mobile Number डालें और मुझे कॉल करें‘ पर क्लिक करें.
    3. अब आपको जेरोधा के प्रतिनिधि का कॉल आएगा आप उसके बताये गए Step को Follow कर अपना Demat Account ओपन कर सकते हैं.

    Demat Account से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न 


    1. मैं एक साथ कितना Demat Account Open कर सकता हूँ?

    Ans :- आप जितने चाहे उतने Demat Account एक साथ रख सकते हैं , लेकिन अलग - अलग कंपनी के पास. क्योंकि एक समय में आप किसी एक कंपनी के पास सिर्फ एक ही Demat Account Open कर सकते हैं.

    2. क्या मैं अपना Demat Account किसी और के नाम से Open कर सकता हूँ?

    Ans :- जी नहीं ! आप अपना Demat अकाउंट किसी और के नाम से ओपन नहीं कर सकते हैं.

    3. क्या Demat Account से Mutual Fund में निवेश कर सकते हैं?

    Ans :- जी हाँ! कर सकते हैं.

    संबंधित लेख :- 

    आज आपने क्या सिखा ? - Demat Account In Hindi


    तो दोस्तों आज के इस लेख में मैंने What Is Demat Account In Hindi के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है. मुझें उम्मीद है की इस लेख को पढने के बाद आपको Demat Account क्या है? की पूरी जानकारी मिल गयी होगी. 

    यदि इससे Related आपका कोई सवाल है तो हमसे जरुर पूछे और यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट करें 

    धन्यवाद !!


    Post a Comment

    0 Comments